जमवारामगढ़, धुलारावजी स्लग-1 सरपंच व उपसरपंच के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई होने पर बनी सहमति

जमवारामगढ़, धुलारावजी 
स्लग-1 सरपंच व उपसरपंच के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई होने पर बनी सहमति 
स्लग-2 सीओ लाखन मीणा को निलंबित कर जांच की जाये
एंकर- जमवारामगढ़ के धुलारावजी से बड़ी खबर सामने आ रही है रतन लाल मीणा के मामले को लेकर एडवोकेट मानसिंह मीणा, दया फाउंडेशन संचालक प्रिया मीणा गांव वालों के बीच पुलिस प्रशासन से निम्न बातों पर सहमति बनी सरपंच पति व उपसरपंच के खिलाफ निम्न धारा 306, 376 एससी-एसटी एक्ट मे मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी, जिस मुकदमे में रतन लाल को गिरफ्तार किया गया झूठे मुकदमे  फंसाया गया उक्त मुकदमे के जांच अधिकारी सीओ लाखन मीणा को हटाकर जांच जयपुर ग्रामीण के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (महिला अपराध) भवानी सिंह द्वारा की जाएगी, सीओ लाखन मीणा के द्वारा रतन लाल मीणा व उसके घर वालों को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया था रिश्वत के रूप में 1लाख रुपए की नगद राशि ली गई थी, उक्त मामले में लाखन मीणा को निलंबित किया जाए, सीओ लाखन मीणा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जाए आदि मांगों पर बनी सहमति जमवारामगढ़ थाना इंचार्ज द्वारा मौके पर ही जयपुर ग्रामीण के एसपी से गांव वालों की फोन पर बात करवाई एसपी ने जल्द ही जांच कर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया, एडवोकेट मानसिंह मीणा व गांव वालों का कहना है कि अगर आस्वासन के बाद भी सकारात्मक रूप से कार्रवाई नहीं की गई तो मजबूरन आंदोलन की रुपरेखा तैयार कर बडा जन आंदोलन किया जाएगा,  रतनलाल मीणा की जमानत के लिए एडवोकेट मानसिंह मीणा पैरवी करेंगे