महाराजपुरा का गौटा गांव हुआ खाली ,चंबल से सटे गांवो मे हाई अलर्ट जारी ,खतरे के निशान से उपर चल रही है चंबल नदी,गौटा गांव पूरी तरह हुआ जल मग्न,

महाराजपुरा का गौटा गांव हुआ खाली ,चंबल से सटे गांवो मे हाई अलर्ट जारी ,खतरे के निशान से उपर चल रही है चंबल नदी,गौटा गांव पूरी तरह हुआ जल मग्न,
कई गांव खाली कर पहुचे सुरक्षित स्थान पर,
मल्हापुरा,झूकरी,वंधबारा,दर्रा नीदरियापुरा,फत्तेपुरा के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है | महाराजपुरा के गौटा गांव को सुरक्षित स्थान फोरेस्ट चौंकी के पास पहुंचा दिया गया है |

करणपुर रिपोर्ट सतीश नापित। पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने मंडरायल और करणपुर के लिए एसडीआरएफ के जवानो की टीम भेजी है जिसमें 10 जबान हैं जो करणपुर पुलिस थानाधिकारी लालबहादुर सिंह के नेतृत्व में रेस्क्यू कार्य किया जा रहा है | 
करणपुर से मंडरायल व बालेर सड़क मार्ग 7 दिन से बंद | कई जगह जमीन दलदली होने से 33 केवी विद्युत पावर वाले पोल धराशाई हो गए हैं | कनिष्ठ अभियंता रामनिवास ने बताया कि मौसम साफ होने के बाद कार्रवाई की जाएगी | हर डूबने वाले गांवों में एनडीआरएफ की टीम रेस्क्यू कार्य करने नहीं पहुंच पा रही है जहां गांव के युवाओं ने कमान संभाली है जिससे राहत और बचाव कार्य सुगम कर दिया है | चंबल नदी का जल स्तर बढ़ा रहा है था जल स्तर लेकिन चम्बल नदी का जल स्तर उतरने से प्रशासन ने व ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है | एनडीआरएफ की टीम व करणपुर पुलिस थानाधिकारी लालबहादुर सिंह के साथ साथ टोड़ा ग्रामपंचायत जनप्रतिनिधि सरपंच पुत्र रामकुमार मीना घूँसई, व करणपुर जन प्रतिनिधि सरंपच केवल बैरवा गढ़ीगाव के नेतृत्व में चंबल किनारे रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है |
पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड़ पर हैं | 
167.63 मीटर पहुंच गया था चंबल नदी का जल स्तर 165 मीटर पर है चंबल नदी में खतरे का निशान |चम्बल नदी का पानी मंद गति से उतरने लगा है जिससे प्रशासन व ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है | करई गांव के युवाओं की टीम विष्णु ,बंटू , कमलेश मीना , शेखर सैनी , कृष्णा सैनी, महेश सैनी, बंटा मीना घूँसई, बबलू मीना, मनीष मीना, तेजसिंह मीना , राजेश माली आदि ने लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के कार्य में लगे हुए हैं | फोटो : लोगों ने पाटौर लेली शरण ,युवक एक बुजुर्ग को सुरक्षित स्थान की ओर ले जाते हुए |