बंगाल में 'शेरनी' की सुनामी के आगे मोदी-शाह की 'चाणक्य नीति' धराशायी, फिर TMC की सरकार

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में मोदी और शाह की चाणक्य नीति फेल हो गई है।

राहुल गांधी का जलवा दूर दूर तक नजर नहीं आया। BJP समर्थक उम्मीद कर रहे थे कि बीजेपी बराबर की टक्कर देगी और सत्ता में आएगी, लेकिन इससे उलट ममता बनर्जी की शेरनी सी दहाड़ के आगे कोई नहीं टिक सका और टीएमसी एक बार फिर बंगाल में सत्ता पर काबिज हो गई।

इस बात की आधिकारिक घोषणा का अब इंतजार हो रहा है कि ममता बनर्जी मुख्यमंत्री पद की शपथ कब लेगी, उनके मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह कब होगा, और उनके मंत्रिमंडल में कौन कौन शामिल होगा।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ममता बनर्जी को बधाई दी। अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल ने लिखा कि ममता दीदी को ऐतिहासिक जीत की बधाई। वहीं उन्होंने पश्चिम बंगाल की जनता को भी बधाई दी है

रुझानों में टीएमसी पार्टी की जीत पर कई समर्थक सड़कों पर जश्न मनाते नजर आए। हालांकि चुनाव आयोग ने सख्त टिप्पणी करते हुए आदेश दिया था कि कोई भी राजनीतिक दल जीत का जश्न नहीं मनाएगा। लेकिन पश्चिम बंगाल से ऐसी कई तस्वीरें सामने आ रही हैं, जिसमें समर्थक जश्न मनाते दिख रहे हैं।