हिंडौन सिटी झरेडा रोड का दृश्य

हिंडौन सिटी में नगर परिषद चुनाव

होने जा रहे हैं उसको लेकर काफी लोगों मे काफी उत्साह है उम्मीदवार की अगर बात करें तो जैसे एक बहुत बड़ी होड़ लगी हुई है  अगर झारडा रोड और मंडावरा रोड की बात करें तो वहां के हालात देखने के बाद ऐसा लगता है जैसे यहां पर न कोई सरकार है और नहीं यहां पर कोई विकास है  हिंडौन सिटी जो कि एक बड़ा शहर है इस रोड से पैदल निकलना तो बहुत दूर की बात है अगर कोई बंदा बाइक से भी निकल रहा है तो उसको निकलना भी एक चुनौती का काम है मेरा मानना है कि जो भी जनप्रतिनिधि इन क्षेत्रों से चुनाव मैदान में खड़े हुए हैं उनको सबसे पहले अपने क्षेत्र की रोड नालियां इन पर ध्यान देना चाहिए, देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी ने सबसे पहले स्वच्छ अभियान चलाया था आज ऐसा लगता है जैसे कि लोग उसको पूरी तरह अनदेखा कर रहे हैं और स्वच्छ अभियान के नाम पर वहां के हालात देखे नहीं जाते लगता ही नहीं है कि हम हिंडौन सिटी के किसी रोड से निकल रहे हैं इसी तरह अगर हम बात करें आम रोड की जोकि रेलवे स्टेशन से करौली रोड गौशाला होते हुए निकलता है वहां पर भी आए दिन रोड पर जाम के हालात बने रहते हैं ट्रैफिक पुलिस कर्मियों का लोगों के चालान काटने से फुर्सत नहीं है ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से की खराब है